रविवार 14/04/2019 को दुनिया के सबसे लम्बे एयरप्लेन Stratolaunch ने कैलिफोर्निया मेजोवा रेगिस्तान के ऊपर उड़ान भरी।करीब 2ढाई घण्टे की उड़ान के बाद यह नीचे उतरा।जिसकी जानकारी Stratolaunch के ट्विटर पेज से दी गयी। Stratolaunch वही विशालकाय प्लेन है जिसका माइक्रोसॉफ्ट के सह संस्थापक Paul Allen ने देखा था और इसे वह उड़ते देखना चाहते थे।

उन्होंने ही 2011 Stratolaunch नाम की कम्पनी की शुरूआत कर इस विमान के निर्माण पर काम शुरू किया था,परन्तु दुर्भाग्य की इसकी पहली उड़ान के लगभग छः महीने पहले अक्टूबर 2018 को उनका निधन हो गया।

क्या है विशेष Stratolaunch में–

Stratolaunch को विशेषकर अंतरिक्ष मे सैटेलाइट लांच के लिए बनाया गया है।जोकि सैटेलाइट लांच कर वापस पृथ्वी पर लौट आएगा।चूंकि हम जानते है कि फिलहाल सैटेलाइट लांच के लिए रॉकेट का इस्तेमाल किया जाता है।जिसके लिए जगह की बर्बादी और साथ कि रॉकेट भी सैटेलाइट लांच करने के बाद अंतरिक्ष मे ही नष्ट हो जाता है। तो देखा जाए फिलहाल यह बहुत खर्चीली प्रक्रिया है।

हालांकि मस्क स्वामित्व वाली स्पेसएक्स ने रिमूवेबल रॉकेट के सफल परीक्षण से एक उम्मीद जगाई तो है परन्तु उस तकनीक का अभी कोई खास प्रदर्शन नही हो पाया है ।

वही Stratolaunch धरती की निचली कक्षा तक उड़ान भरकर वहां सैटेलाइट को छोड़ आएगा। Stratolaunch में खास बात यह है कि इसकी प्रक्रिया ठीक ऐरोप्लेन जैसी ही है। मतलब उड़े ,यात्रा की और वापस। और यह तकनीक रॉकेट की तुलना में काफी सस्ती और महत्वपूर्ण है । जिसे भविष्य में मानव को अंतरिक्ष की सैर कराने वाले विमान के रूप में भी देखा जा रहा है।

वही Stratolaunch की बनावट की बात करे तो इसे दो जुड़वा विमानों को जोड़कर बनाया गया है ।जबकि विमान के पंखों का फैलाव 385 फीट है और यह 238 फीट लंबा है,जोकि अपने आप में एक रिकॉर्ड है और इसका वजन लगभग 5 लाख पौंड है।

विमान ने अधिकतम 189 मील (302.4 किलोमीटर) प्रति घंटे की गति को प्राप्त करते हुए विमान ने मोजेव रेगिस्तान में 17,000 फीट की ऊंचाई पर 2.5 घंटे तक उड़ान भरी. स्ट्रेटोलॉन्च के सीईओ जीन फ्लॉयड ने कहा कि पहली उड़ान कितनी शानदार रही. उन्होंने रविवार को इस मौके पर कहा कि “आज की उड़ान ग्राउंड लॉन्च सिस्टम का एक लचीला विकल्प प्रदान करने के हमारे मिशन को आगे बढ़ाएगी. हमें Stratolaunch टीम, आज के फ्लाइट क्रू, नॉर्थ्रप ग्रम्मन के स्केल्ड कम्पोजिट्स और मोजेव एयर एंड स्पेस पोर्ट के हमारे सहयोगियों पर बेहद गर्व है।

वही नासा में विज्ञान मिशन निदेशालय के एसोसिएट एडमिनिस्ट्रेटर थॉमस जुर्बुचेन ने ट्वीट किया कि “इस रिकॉर्ड कायम करने वाले विमान का उड़ान भरना स्ट्रेटोलॉन्च टीम के लिए एक ऐतिहासिक मील का पत्थर है! यह अंतरिक्ष के छोर तक और उससे भी परे जाने से जुड़ा है. उन्होंने कहा कि काश पॉल ऐलन यह देख पाते।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here