चूंकि फेसबुक ने अपने view as फ़ीचर के कारण प्रभावित हुए सभी 50 मिलियन खातों को रिसेट करने की बात पिछले हफते कही थी ,मगर फेस बुक ने अब तक ऐसी कोई बात नही कही थी जो बताती है कि आखिर हैकर यूजर्स की किन जानकारियों तक पहुंचने में कामयाब हुए थे थे।परन्तु 12 अक्टूबर को फेसबुक द्वारा यह साफ कर दिया गया कि view as फीचर में सेंध के माध्यम से लगभग 30 मिलियन से ज्यादा फेसबुक यूजर की व्यक्तिगत जानकारियां चोरी हुई है ,यह जानकारी फेसबुक प्रोडक्ट मैनेजमेंट के वाईस प्रेसिंडेन्ट Guy Rosen ने फेसबुक न्यूज़रूम पोस्ट के माध्यम से कही।हालांकि यह एक आंकड़ा है जो फेसबुक द्वारा बताया गया है ,परन्तु असल मे इससे कितने यूजर्स प्रभावित हुए है कहना मुश्किल है।वही चेक करने के लिए कि आप इससे प्रभावित है या नही फेस बुक ने यूजर्स के लिए कुछ टिप्स दिए है।जो है–
1.लॉग इन करते समय इस फेसबुक सहायता केंद्र लिंक पर जाएं: https://www.facebook.com/help/securitynotice

2.”Is my Facebook account impacted by this security issue?” सेक्शन में नीचे स्क्रॉल करे।3.यहां आपको एक yes या no कोई जवाब दिखाई देगा कि आपका खाता 30 मिलियन उपयोगकर्ताओं में से एक था या नहीं। प्रभावित लोगों को उनके समाचार फ़ीड के ऊपर इस तरह की चेतावनी भी मिल जाएगी:

4.यदि जवाब हाँ आता है तो आप तीन श्रेणियों में से एक मे होंगे:

a)आप उन 15 मिलियन यूजर्स में से है जिनके नाम,ईमेल,या फोन नंबर या फिर सभी को एक्सेस किया गया था।
b)आप उन 14 मिलियन यूजर्स में से है जिनकी नाम ,या,ईमेल जैसी दो चार जानकारी नही बल्कि इनके साथ-साथ लिंग, लोकेल / भाषा, रिश्ते की स्थिति, धर्म, गृहनगर, स्वयं रिपोर्ट की गई वर्तमान शहर, जन्मतिथि, डिवाइस प्रकारों तक पहुंच के लिए उपयोग किया गया था फेसबुक, शिक्षा, काम, आखिरी 10 स्थानों में उन्होंने चेक किया है या उन्हें टैग किया गया है, वेबसाइट, लोग या पेज जो वे अनुसरण करते हैं, और 15 सबसे हाल की खोजें आदि जानकारियां भी एक्सेस करी गयी थी।
c)एक मिलीयन यूजर्स की यह कैटेगरी एक तरह से भाग्यशाली यूजर्स की श्रेणी है क्योंकि इस श्रेणी यूजर्स के टोकन तो चोरी हुए पर उनका कभी उपयोग नही किया गया था।

अगर आपका अकॉउंट हैक हुआ है तो ध्यान योग्य कुछ बाते

A)वैसे आप तसल्ली के लिए अपनी पासवर्ड व क्रेडिट इन्फो आदि बदल सकते है,लेकिन फिर भी ऐसे कोई सबूत सामने नही आये है जिनसे यह साबित हो कि यूजर्स का अहम डेटा का प्रयोग हुआ था।

B) अपने स्पैम काल,मैसेज व मेल डिटेल चेक कर क्योकि हो सकता है कि आपकी जानकारी बेईमान व्यवसायों को फायदे के उद्देश्य से बेची गयी हो।

C)फिशिंग से बचे अर्थात किसी अनजान लिंक या पृष्ठ पर लॉगिन ना करे क्योकि इसके माध्यम से हैकर आपके खाते में प्रवेश कर सकता है और जानकारी चुराई जा सकती है।हालांकि फिशिंग हैकिंग की पुरानी तकनीक हो चुकी है परन्तु यह आज भी हैकिंग में बड़े तौर पर इस्तेमाल होने वाली तकनीक है।

मैसेंजर से व्हाट्सएप की तरह अब भेजा हुआ मैसेज कर सकेंगे डिलीट

कभी कभी हम ऐसा मैसेज लिख कर भेज देते है जो हमें खुद भीबहुत ही स्टूपिड और वल्गर लगता है। परन्तु पिछले साल व्हाट्सएप “डिलीट फ़ॉर एवरीवन“का ऑप्शन लेकर आई जिसकी समय सीमा पहले तो कम थी ,परन्तु अब उस ऑप्शन का प्रयोग कर भेजे गए वल्गर मैसेज को 1घण्टे 8मिनट में भेजने वाले व प्राप्तकर्ता दोनों के फोन से डिलीट किया जा सकता है।

वही कुछ ऐसी उम्मीद ही उम्मीद फेसबुक के दूसरे मैसेजिंग प्लेटफॉर्म “मैसेंजर” से भी थी ।जिसे लेकर फेस बुक ने एक प्रोटोटाइप प्रस्तुत किया है,जो व्हाट्सअप के “डिलीट फ़ॉर एवरीवन” ऑप्शन की तरह मैसेंजर से मैसेज डिलिटिंग का कार्य करेगा।हालांकि यह फिलहाल एक टेस्ट है जिसके लांच होने के बारे में अभी कोई जानकारी फेसबुक की तरफ से नही दी गयी है।पर मेरे जैसा यूजर दुआ करता है कि काश ये जल्दी से जल्दी हो क्योकि भई!हम भी कभी-कभी ऐसा अनचाहा भेज देते है,जो चाह कर भी डिलीट नही होता।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here